Online Chhattisgarh

Roshan Bharti   2017-12-07

अश्लील सीडी मामले में हुआ बड़ा खुलासा, सिर्फ इतने पैसों में हुआ था सौदा

OnlineIndia रायपुर। अश्लील सीडी मामले में एसआईटी की जांच में बड़ा खुलासा हुआ है। वेबसाइट पर अश्लील सीडी की कॉपी करने का विज्ञापन विनोद द्वारा देना पाया गया है। इसके आधार पर दिल्ली के गीतानगर स्थित वीडियो मिक्सिंग और सीडी की कॉपी का काम करने ईशू नारंग को प्रति सीडी 12 रुपए की दर से दिया गया था। बताया जा रहा है कि ईशू नारंग ने सीडी की 1000 कॉपी की थी। नारंग और उसके बेटे ने एसआईटी की पूछताछ में यह बात स्वीकार की है।   

सीडी की कॉपी करने के एवज में ईशू नारंग ने 12 हजार रुपए विनोद वर्मा से लेने की बात मजिस्ट्रेट के सामने भी कही है। इसी सबूत के आधार पर विनोद वर्मा की गिरफ्तारी की गई है। गाजियाबाद स्थित विनोद के घर से 500 नग अश्लील सीडी बरामद होने को भी अहम सबूत माना जा रहा है।

आपको बता दें पंडरी पुलिस ने विनोद के खिलाफ तैयार की गई केस डायरी में इसका विस्तृत उल्लेख किया है। इसमें नारंग की शॉप से जब्त रजिस्टर सीडी की कॉपी का लेखा-जोखा भी दर्ज है। पूछताछ में ईशू नारंग तथा उसके बेटे विकास ने बताया कि500-500 सीडी के दो बंडल तैयार कर दुकान में रखने को कहा था।

26 नवम्बर को विजय भाटिया दुकान आकर विनोद का हवाला देते हुए 500 सीडी का बंडल लेकर चले गए थे। पुलिस ने ईशू की मदद से विजय भाटिया की फ्लाइट टिकटहोटल में ठहरने के सबूत और मोबाइल लोकेशन को भी चेक किया गया है। पुलिस ने दावा किया है कि विजय ही सीडी लेकर भिलाई व रायपुर आया था और उसी ने कांग्रेसी नेताओं तक सीडी पहुंचाई थी। आपको बता दें एसआईटी द्वारा जुटाए गए सबूतों को सीबीआई अफसरों ने कमजोर बताकर केस डायरी लौटा दी थी तब एसआईटी ने 40 दिनों बाद नए सिरे से जांच शुरू की है। खबर यह भी है कि संदेहियों के खिलाफ ठोस साक्ष्य नहीं होने के कारण सीबीआई ने अभी तक केस रजिस्टर्ड नहीं किया है। लिहाजा अब एसआईटी संदेही नेताओं के खिलाफ ठोस सबूत जुटाने में लगी है।

You Might Also Like